तहसीलदार कौन होता है – तहसीलदार क्या होता है उनके कार्य

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की Tahsildar Kon Hota Hai, Tahsildar Kya Hota Hai, तहसीलदार कैसे बने, तहसीलदार के कार्य, तहसीलदार के लिए exam एवं तहसीलदार से सबंधित सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में पढ़ सकते है

तहसीलदार कौन होता है – तहसीलदार क्या होता है उनके कार्य

Tahsildar Kon Hota Hai

तहिलदार एक तरह के कर अधिकारी होते है ये तहसील के राजस्व प्रभारी होते है इन्हें तालुकदार भी कह सकते है तसीलदार राजस्व निरक्षक होते है भारत सरकार इन्हें तहसील प्रदान करती है जहा तहसीलदार को सभी तरह के सरकारी काम – काज करने होते है तहसीलदार एक तरह की सरकारी नोकरी होती है

Tahsildar Kya Hota Hai

भारत में कुल 28 राज्य होते है और एक राज्य में कई जिले होते है एवं इन जिले को कई तहसीलों में विभाजित किया गया है इन तहसीलों का एक राजस्व प्रभारी होता है जिसे तहसीलदार कहा जाता है

Tahsildar Kaise Bane

तहसील बनने के लिए कई तरह की बातो का ध्यान रखना चाहिए उमीदवार की आयु 21 से 42 वर्ष के बिच होनी चाहिए उमीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन होना अनिवार्य है एवं उस उमीदवार को उस क्षेत्र की भाषा अछि तरह से आना आवश्यक है

किसी भी राज्य में तहसीलदार की आवश्यकता होती है तो राज्य के सर्विस कमिशनर इसका विज्ञापन जारी करवाते है तहसीलदार के exam form भरकर उमीदवार उसकी परीक्षा दे सकता है उतीर्ण आने पर वह तहसीलदार के पद के लिए अप्लाई कर सकता है सिलेक्शन होने पर उमीदवार का Interview लिया जाता है इसके आधार पर उस उमीदवार को जॉब दी जाती है

यदि किसी राज्य में नायब तहसीलदार की भर्ती हो रही हो तो उमीदवार उसके लिए भी अप्लाई करता है तो उसे यदि किसी राज्य में तहसीलदार की पोजीशन खली हे तो उसे वो पोजीशन मिल जाती है क्योकि जादातर नायब तहसीलदार का प्रमोशन किया जाता है प्रमोशन के बाद उस उमीदवार को तहसीलदार की पोस्ट मिल जाती है

तहसीलदार बनने के लिए उमीदवार को सिविल सेवा परीक्षा देनी होती है उस परीक्षा में अछे अंक लाने पर उसे तहसीलदार का पद दे दिया जाता है

Tahsildar Ke Karya

तहसीलदार के कार्य निम्नलिखित है जिनका तहसीलदार को पालन करना चाहिए जो इस प्रकार है

  • तहसीलदार को राजस्व से सबंधित सभी रिकॉर्ड और खातो की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जाती है
  • तहसीलदार को अपने क्षेत्र में समय – समय पर दोरा करना होता है
  • तहसीलदर के अंतर्गत जो धन इकठा होता है उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी तहसीलदार की होती है
  • तहसीलदार के अंतर्गत कुछ क़ानूनी भूमि का काम भी आता है जैसे प्रोपर्टी को खाली करवाना एवं उसका बटवारा करवाना आदि
  • तहसीलदार के अंतर्गत जो भी सरकार से सम्बंधित मुकदमा होते है उनकी देख – रेख का काम भी तहसीलदार का ही होता है
  • तहसीलदार की निगरानी में काम करने वाले पटवारी एवं क्षेत्रीय अधिकारियो का निरिक्षण करना तहसीलदार का काम होता है लेकिन तहसीलदार का मुख्य कार्य राज्य की आय का ध्यान रखना होता है
  • तहसीलदार भूमि से सम्बंधित विवाद सुनता है एवं उस समस्या का समाधान करने का प्रयास करता है
  • तहसीलदार यह सुनिश्चित करता है की किसान अपनी भूमि का रिकॉर्ड आसानी से रख सके
  • तहसीलदार का काम कुदरती आपदा या बाधाओ से जो नुकसान होता है उस स्थिति में तुरंत राहत अभियान प्रारम्भ करवाने का होता है
Tahsildar Ke Liye Exam

तहसीलदार की परीक्षा राज्य लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित की जाती है जिसके लिए उमीदवार को सिविल सेवा परीक्षा (civil service examination) पास करनी होती है आप यदि इस परीक्षा में अप्लाई करना चाहते हे तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर सकते है

तहसीलदार से सबंधित – FAQ

Tahsildar Ki Salary

तहसीलदार की सैलरी 34,500 से लेकर 1,20,000 तक होती है

Tahsildar Age Limit

तहसीलदार की आयु 18 से 37 वर्ष होनी चाहिए

Tahsildar Ko Kya Bolte Hai

तहसीलदार को तालुकदार बोला जाता है

अगर आपको हमारी यह Tahsildar Kon Hota Hai एवं Tahsildar Kya Hota Hai पोस्ट अच्छी लगी तो इसे शेयर करे एवं इससे जुड़े अन्य पोस्ट भी पढ़े. अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप Comment करके पूछ सकते है