Shaheed किसे कहते है – शहीद का मतलब क्या होता है

देश की सुरक्षा करने वाले पुलिसकर्मी जिन्हें हम जवान भी कहते हैं उनकी मृत्यु पर हम उन्हें शहीद कहते हैं आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की शहीद क्या होता है शहीद किन्हें कहा जाता है और शहीद का मतलब क्या होता है इस पोस्ट में आप शहीद के बारे में विस्तार से जानेंगे ताकि आप शहीद का असली अर्थ समझ सके

Shaheed किसे कहते है – शहीद का मतलब होता है

Shaheed Ka Matlab

वह व्यक्ति जो अपने देश की रक्षा में सदा खड़ा रहता है अपने कर्तव्य का पालन करता है सत्य की निष्ठा रखता है और दुश्मनों से लड़ कर जब लड़ाई में उसकी मृत्यु होती है. उस व्यक्ति को हम शहीद कहते हैं.

ऐसे व्यक्ति जो कि किसी भी लड़ाई में देश की सुरक्षा करते हुए या देश के नागरिकों की सुरक्षा करते हुए अपने प्राणों का बलिदान देते हैं. ऐसे व्यक्तियों को शहीद कहा जाता है. यह व्यक्ति  पुलिस, जल सेना, वायु सेना, थल सेना, BSF, होम गार्ड आदि के सिपाही होते है.

Shaheed Kise Kehte Hain

शहीद वह होता है जो धर्म, सत्य, कर्तव्य और किसी शुभ कार्य के लिए युद्ध या जंग में मारा गया हो शहीद अपने कर्तव्य को पूर्ण निष्ठां और इमानदारी से करते है और अपने आपको देश के लिए न्योछावर या बलिदान करने मेभी नहीं सोचते है

धर्म के लिए, देश के लिए मर जाने बाले व्यक्ति को मरा हुआ नहीं उसे शहीद या वीरगति को प्राप्त कहा जायेगा प्रत्येक वर्ष देश में वीरगति को बहुत से जवान प्राप्त हो जाते है

Shaheed Ka Darja

CRPF (सीआरपीएफ), BSF (बीएसएफ) या फिर दूसरे पैरामिलिट्री फोर्स, पुलिस, जल सेना, वायु सेना, थल सेना, होम गार्डका जवान अगर किसी आतंकी हमले में वीरगति को प्राप्त होते है तो उस जवान को उसकी मृत्यु के बाद शहीद का दर्जा जिया जता है.

भारत की सभी आर्म फ़ोर्स एवं सुरक्षा कर्मी भी शहीद का दर्जा पते है. 26-11 के हमले में एक police constable ने अपनी जान पर खेल कर एक आतंकवादी कसाब को पकड़ा था.

जो की वीरगति को प्राप्त हो गए थे लेकिन फिर भी उनके पार्थिव शरीर ने कसाब को नहीं छोड़ा और वीर शहीद Tukaram Omble के कारण ही हम कसाब जैसे आतंकवादी को पकड़ पाए जिसे न्यायालय ने उसके गुनाहों के अनुसार सजा दी.

shaheed ke parijano ko milne baale fayede

वीरगति को प्राप्त होने वाले सभी शहीदों के परिवार वाले भी उन पर निर्भर रहते हैं कई शहीद जिनकी शादी हो जाती है एवं बच्चे हो जाते हैं वह उनके पिता या उनकी मां के मरने के बाद बहुत तकलीफ में आ जाते हैं

उन लोगों की तकलीफ को थोड़ा कम करने के लिए सरकार वीरगति को प्राप्त होने वाले हर एक शहीद को कुछ फायदे एवं धनराशि प्रदान करती है जिनके बारे में हमने नीचे जानकारी दी हैं

  • किसी भी सेना में सहीद हुए जवान की म्रत्यु के पश्चात उनकी फेमिली को पेंशन दी जाती है
  • शहीद होने वाले सेनिको और अर्ध्दसेनिक बलों के जवानो के परिवार बालो को सरकार के द्वारा सहायता राशी दी जाती है
  • शहीद हुए सैनिक और जवानो के सम्मान में श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किया जाता है
  • शहीदों के वंशजो को कई तरह की सुविधाए भी उपलब्ध कराई जाती है
  • शहीद के परिवार के किसी भी योग्य सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जा सकती है
  • शहीदों के बच्चों को पढाई के लिए छात्रवृति दी जाती है
  • शहीद के परिवार के सदस्यों को कृषि भूमि पर आउट ऑफ़ टर्न के आधार पर विधुत कनेक्शन दिया जाता है

आशा करते हैं आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए एवं अगर आप इससे संबंधित और भी कई अन्य टॉपिक पढ़ना चाहते हैं तो हमारी अन्य पोस्ट को जरूर पढ़ें अगर आपके मन में कोई सवाल है जो आप हम से पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके आप हमसे सवाल पूछ सकते हैं