Rajya Mantri क्या होता है, राज्य मंत्री किसे कहते हैं, कैसे बने, योग्यता

| | 3 Minutes Read

क्या आप भी Rajya Mantri से जुड़ी जानकारी ढूंढ रहे हैं? अगर हाँ तो आप सही जगह हैं. आज मैं आपको बताऊंगा Rajya Mantri Kya Hota Hai और Rajya Mantri Kise Kahate Hain.

इसके साथ ही में आपको Rajya Mantri से जुड़े और भी सवालों के जवाब दूंगा जैसे कि: Rajya Mantri के अधिकार, Rajya Mantri की योग्यता, Rajya Mantri का कार्यकाल, Rajya Mantri की Age इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में बताऊंगा.

Rajya Mantri Kya Hota Hai

राज्यमंत्री व मंत्री होते है जो किसी विभाग के स्वतंत्र प्रभार नहीं होते है. जबकि वे किसी स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्री के अधीन होते है राज्यमंत्री का पद भारत में तीसरे नंबर पर आता है. यह मंत्रिमंडल में प्रधानमंत्री तथा Cabinet Minister के बाद आता है भारत के संविधान के अंतर्गत राज्य मंत्री स्वतंत्र होता है.

राज्य मंत्री कैबिनेट मंत्री के सहायक के रूप में भी काम करता है राज्यमंत्री को कभी-कभी सरकार के सर्वोच्च पद के लिए भी प्रयुक्त किया जाता है. एक कैबिनेट मंत्री के अंदर एक या उससे ज्यादा राज्य मंत्री भी आ सकते है भारत के मंत्रालय में कई विभाग होते है.

इन विभाग को राज्य मंत्री के बीच बांटा जाता है, जिससे वे कैबिनेट मंत्री की मंत्रालय चलाने में मदद कर सकते है.

Rajya Mantri Kise Kahate Hain

राज्यमंत्री कॅबिनेट मंत्री के सहायक के रूप में काम करता है भारत में कई राज्य है उन सभी राज्यों में एक मंत्री होता है. जो उस राज्य की देखरेख करता है. राज्य मंत्री कैबिनेट की मीटिंग में भाग नहीं ले सकता है परन्तु उसे मंत्री की ही सुविधाएं दी जाती है

राज्य मंत्री को अंग्रेजी में मिनिस्टर ऑफ़ स्टेट कहा जाता है. राज्यमंत्री का पद तीसरे नंबर पर आता है राज्य मंत्री को कैबिनेट मंत्री के मंत्रालय में एक विशेष जिम्मेदारी दी जाती है.

Rajya Mantri Kaise Bante Hain

राज्य मंत्री बनने के लिए उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए. उस उम्मीदवार का किसी भी तरह का आपराधिक गतिविधियों में किसी भी तरह से कोई पहले से रिकॉर्ड न हो. राज्य मंत्री बनने के लिए उस उम्मीदवार का पहले से ही मंत्री परिषद में कम से कम 6 महीने तक कार्यरत रहना जरूरी होता है.

राज्य मंत्री बनने से पहले उम्मीदवार मंत्री बनता है यदि वह मंत्री बन जाता है तो उसे उस पद पर कम से कम 6 महीने के लिए रहना होगा और उन 6 महीने के अंदर वह किसी भी सदन का सदस्य बन सकता है.

मंत्री बनने के बाद वह उम्मीदवार राज्य मंत्री बन जाता है, राज्य मंत्री, कैबिनेट मंत्री से नीचे का पद होता है.

Rajya Mantri Ke Karya

  • राज्य मंत्री का काम कैबिनेट मंत्री के सहयोगी के रूप में काम करना होता है.
  • कैबिनेट मंत्री की सहायता के लिए ही राज्य मंत्री का निर्माण किया जाता है.
  • राज्य मंत्री कैबिनेट मंत्री के निर्देशानुसार कार्य करता है.
  • राज्य मंत्री अपने विभाग के सभी प्रकार के कामों को संभालता है.
Rajya Mantri Ki Power

राज्यमंत्री की कोई विशेष पॉवर नहीं होती है यह केबिनेट मंत्री का सहायक होता है राज्यमंत्री का पद केबिनेट मंत्री के पद के निचे का पद होता है इसलिए इसे सभी काम केबिनेट मंत्री के निर्देश के अनुसार ही करना होता है.

Rajya Mantri Ke Prakar
  • राज्य मंत्री: राज्य मंत्री केबिनेट मंत्री की बैठक में भाग नहीं लेते है.
  • स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री: स्वतंत्र प्रभार Minister of State, Cabinet Minister की बैठक में भाग लेता है उस समय स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री का उस बैठक में उपस्थित होना आवश्यक होता है.

राज्य मंत्री कौन है.

राज्य मंत्री केबिनेट मंत्री का सहायक है.

Rajya Mantri Ki Salary.

राज्यमंत्री को 1000 रुपए प्रति दिन दिया जाता है.

आशा करते हैं आपको Rajya Mantri Kya Hota Hai और Rajya Mantri Kise Kahate Hain पोस्ट अच्छी लगी होगी. 

अगर अच्छी लगी तो इस पोस्ट को Share करें और अगर कोई Question पूछना हो तो नीचे Comment करके पूछ सकते हैं

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Sanjay है. मैं SarkariPot.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में सरकारी Job Positions के बारे में लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सरकारी विभाग में उपलब्ध पदों की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ.मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें.मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *