Personnel Department क्या है – कार्मिक विभाग क्या होता है

इस आर्टिकल में हम पढ़ेंगे की कार्मिक विभाग क्या होता है, कार्मिक विभाग के कार्य क्या होते हैं, कार्मिक विभाग में कौन-कौन भर्ती होती हैं ,कार्मिक विभाग का गठन कब हुआ था आदि कार्मिक विभाग से संबंधित सारी जानकारी इस पोस्ट में आपको मिलेगी.

Personnel Department क्या है – कार्मिक विभाग क्या होता है

Karmik Vibhag Kya Hai

कार्मिक विभाग एक सरकारी विभाग है. कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग केंद्र सरकार की एजेंसी है जो कार्मिक मामलों की भर्ती, प्रशिक्षण, कैरियर, और कर्मचारियों के कल्याण से संबंधित मुद्दों को देखती है.

कर्मचारियों की नीतियों ,अनुशासन, रिक्तियों और नीतियों का विवरण उपलब्ध करवाती हैं.कार्मिक विभाग का कार्योलय हर जिला में होता है . कार्मिक विभाग का मुख्य उद्देश्य होता है की लोगो को कार्य दिलवाना ,जो लोग बेरोजगार है उन्हें कही ना कही रोजगार मिले .

आप कार्मिक विभाग में जा कर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है कार्मिक विभाग से आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर दिया जाएगा जिसमें आपकी पढ़ाई की जानकारी लिखी जाती हैं और यह रजिस्ट्रेशन अगले 5 सालों के लिए मान्य होता है.

जब भी सरकार के द्वारा कोई नौकरी की योजना निकाली जाती है तो आप इस कार्ड को लेकर जाएंगे और नौकरी के लिए अप्लाई करेंगे तो उसके बाद आप को रोजगार जल्दी मिल जाएगा इसलिए रोजगार पंजीयन करवाना आवश्यक है.

कार्मिक विभाग क्या है

कार्मिक विभाग सरकार के सारे विभागों का काम संभालती है भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी मंत्रालयों की भर्ती करना, सभी मंत्रालयों के कामों को निरीक्षण करना, सरकार के द्वारा बनाए गए सारे नियम और सारे कानून को सारे विभागों को भेजना और उन्हें सभी विभागों से पालन करवाना.

कार्मिक विभाग का मुख्य उद्देश होता है ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार दे सकें और जितने पढ़े-लिखे लोग है उन सभी को एक अच्छे समाज में अच्छे लेवल पर लाइफस्टाइल दे सकें.

सीबीआई ,आइ ए एस, आईपीएस जितने भी सरकारी दफ्तर के अधिकारी होते है उन सभी के अधिकारियों को प्रशिक्षण का कार्य कार्मिक विभाग के द्वारा किया जाता है.

Karmik Vibhag Ke Karya

कार्मिक विभाग एक ऐसा विभाग हैं जिसमें कार्मिक प्रबंधन का होना आवश्यक है नौकरशाही की आचार संहिता और मानकों को बनाए रखना जरूरी है कार्मिक विभाग लोक सेवाओं की सत्यनिष्ठा बना रहता है और भ्रष्टाचार से अलग करता है.

जिससे सरकारें अपना लक्ष्य निर्धारित कर पाती है की आगे की क्या रणनीति बनाना है और देश को आगे कैसे बढ़ाना है कार्मिक विभाग अपने क्षेत्र के सभी मंत्रालयों विभागों के सभी कार्यों में समझ बनाता है और अपनी मुख्य भूमिका निभाता है.

और अपने दायित्व को पूरा करता है कर्मचारियों के प्रशिक्षण संगठन, सभी कर्मचारियों के प्रशिक्षण के लिए आवश्यक सामग्री की योजना ,कार्मिक विभाग  के रूप नए -नए सिद्धांतों को बनाना, कर्मचारियों को ट्रेनिंग के समय उच्च लेवल पर रखना आदि कार्य होते हैं.

Karmik Vibhag Yojana Kya Hai

कार्मिक विभाग की योजनाएं निम्नलिखित होती हैं

  • केंद्रीय सेक्टर की योजनाएं बनाना
  • सभी के लिए प्रशिक्षण टीम तैयार करना
  • नीति निर्माण सिविल सेवा को एक लेवल पर रखना
  • विभिन्न लोक नीतियों को सिविल सोसाइटी में शामिल करना
  • सुधरी हुई सुविधाओं के लिए योजना
  • नए आधारभूत तैयार करना
  • आई आई पी ए को अनुदान देना
  • केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो योजना स्कीम
  • सी आईसी की योजना स्कीम
  • केंद्रीयकृत रूप से प्रायोजित स्कीम
  • सूचना का अधिकार नियम

आदि.

कार्मिक विभाग के अधिकारी

कार्मिक विभाग का अधिकारी बनने के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक करना होगा उसके बाद सरकार के द्वारा या कार्मिक विभाग के द्वारा भर्ती निकाली जाती है जिसमें आप नोटिफिकेशन पढ़ने के बाद अपनी पढ़ाई के अनुसार जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

अधिकारी के लिए आपकी योग्यता पूर्ण होनी चाहिए उसके बाद कार्मिक विभाग के द्वारा आपका एग्जाम होगा.आप एग्जाम में पास हो जाते हैं तो उसके बाद कार्मिक विभाग के बोर्ड के द्वारा आपका इंटरव्यू लिया जाएगा .

अगर आप इंटरव्यू में पास हो जाते तो आपको एक अधिकारी के रूप में नियुक्ति मिल जाएंगे  शुरुआत में आपकी सैलेरी 30,000 से 35000 तक होगी.

कार्मिक विभाग के आदेश

कार्मिक विभाग के आदेश-

कार्मिक विभाग मंत्रालय के द्वारा जारी किए जाते हैं जो कि राज भाषा विभाग का एक प्रमुख हिस्सा होता है जितने भी सरकारी विभाग हैं उन सभी के लिए राजभाषा विभाग के द्वारा ही आदेश निकाले जाते हैं.

यह आदेश सरकार एक रणनीति बनाकर तैयार करती है और सरकार के द्वारा आदेश निकाले जाते हैं आदेश में बताया जाता है की विभाग की भर्ती कब होगी, कितने पद खाली हैं. कौन-कौन से कार्य करना है,कौन-कौन से अधिकारियोंकी नियुक्ति करना है,विभाग को आगे बढ़ाना कैसे हैं, विभाग के लिए नीतियां तैयार करना
इस प्रकार के आदेश सरकार के द्वारा दिए जाते हैं.

कार्मिक विभाग का कौन सा कार्य है

कार्य विभाग का कार्य –
यह विभाग अपनी मॉडल भूमिका नीति रूप तथा सरकार को सजग रूप से कार्य करना और यह सुनिश्चित करना की जितने भी काम हो रहे हैं.
वह सभी मंत्रालयों और विभागों के द्वारा हो रहे हैं और विभाग द्वारा भर्ती, सेवा शर्तो के विनियमन और कार्मिक विभाग के द्वारा सभी मामलों का पालन किया जाता है.

Karmik Vibhag Ka Gathan Kab Hua

कार्मिक विभाग का गठन 7 फरवरी सन 1973 में हुआ था.