IT विभाग Kya Hai | आई टी सेक्टर क्या है

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे आईटी विभाग क्या होता है. आईटी विभाग में आईटी कोर्स क्या होता है एवं आईटी सेक्टर किस तरह काम करता है ,आईटी सेक्टर क्या होता है और आईटी विभाग का क्या मतलब है .

इस पोस्ट में हम आईटी विभाग के बारे में विस्तार से जानेंगे तो अगर आप आईटी विभाग के बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें.

IT विभाग Kya Hai | आई टी सेक्टर क्या है

It Vibhag Kya Hai

आईटी विभाग को हम इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी विभाग कहते हैं. आज के समय में 90% काम कंप्यूटर पर होता है और इसी कारण से सभी सरकारी विभागों में भी काम कंप्यूटर पर होने लगा है. कंप्यूटर काम को आसान बना देते हैं .

इसलिए सरकार हर एक सरकारी विभाग में कंप्यूटर से काम करने की कोशिश करती है.अब यह काम जब कंप्यूटर पर होते हैं तो कंप्यूटर में कई सारी समस्याएं भी आती है .

कई बार इंटरनेट से संबंधित काम या फिर वेब पोर्टल या वेबसाइट से संबंधित काम भी सरकारी विभाग को करने होते हैं.

आई टी सेक्टर क्या है

आईटी सेक्टर को भी हम आईटी विभाग ही कहते हैं .आईटी विभाग और आईटी सेक्टर में काफी अंतर है जहां आईटी विभाग एक छोटा सा विभाग होता है वहीं आईटी सेक्टर एक बहुत बड़ा सेक्टर होता है.

आईटी विभाग में कम लोगों के साथ एक संगठन बनाया जाता है या फिर एक ऑफिस बनाया जाता है जहां उनका काम होता है छोटे स्तर पर समस्याओं को संभालना.

देशभर में होने वाली कई सारे IT समस्याओं को सॉल्व करने का काम आईटी विभाग के द्वारा किया जाता है .समस्याओं को सॉल्व करने का काम आईटी सेक्टर का है जो कि मुख्य रूप से सेंट्रल गवर्नमेंट के द्वारा कंट्रोल किया जाता है.

कई बार बड़ी स्टेट जैसे दिल्ली और मुंबई अपने खुद के आईटी सेक्टर भी रखती है ताकि वह छोटे-छोटे आईडी पर कंट्रोल कर सके या उनकी मदद कर सके.

It Vibhag Kya Hota Hai

आईटी विभाग इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी विभाग होता है जिसके अंदर आपको इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से रिलेटेड समस्याओं के समाधान या फिर वेबसाइट पोर्टल मोबाइल है.

जैसी चीजों को मैनेज करना और उनमें चेंज करने का काम करना होता है .गवर्नमेंट के कई सारे सॉफ्टवेयर होते है जिनके अंदर समस्या आती है. डेटिंग करना चेंज करना या फिर उनके अंदर होने वाले बॉक्स को ठीक करने का भी काम ही आईडी विभाग का होता है.

जब कई सारी समस्याएं इंटरनेट विभाग में आती है तो इनका समाधान होना जरूरी है जिसका निदान करते हुए सरकार ने आईटी विभाग की संरचना की जिनका मूल काम होता है इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से रिलेटेड किसी भी प्रॉब्लम का सलूशन निकालना या फिर नए-नए Features का उपयोग कर सरकारी विभाग के कामों को आसान बनाना .

आईटी विभाग सेंट्रल और स्टेट सरकार में होता है कई बार बड़ी-बड़ी सिटीओं में भी अपना एक आईटी विभाग होता है ताकि सिटी में होने वाले कई सारे इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से रिलेटेड काम को आसान किया जा सके.

आईटी कोर्स क्या है

आईटी कोर्स के नाम जैसा ही एक कोर्स होता है इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का मुख्य रूप से इसमें टेलीकम्युनिकेशन डेटाबेस टेक्नोलॉजी ह्यूमन रिसोर्स प्रोग्रामिंग आती है. लेकिन अगर हम इसे कोर्स की तुलना में बात करें तो कॉलेज और यूनिवर्सिटी डिग्रियों में बांट देती है.


जैसे कि बीएससी कंप्यूटर साइंस, एमएससी कंप्यूटर साइंस, बीटेक, एम्टेक ,बीएसई ,एमएससी आदि इनके अंदर भी आप कई सारी चुनिंदा स्ट्रीम्स ले सकते हैं जिनके बारे में आपको आपके कॉलेज या यूनिवर्सिटी से जानकारी मिल जाएगी,

इन कोर्स को करने के बाद आप किसी भी आईटी सेक्टर यह आईटी विभाग के अंदर जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

इन सभी कोर्स की फीस हर यूनिवर्सिटी की अलग-अलग कॉलेज के हिसाब से बदलती रहती है लेकिन यही वह कोर्स होते हैं जो कि आईटी सेक्टर में आपको जॉब दिला सकते हैं.

इसके अलावा कई सारे डिप्लोमा कोर्सेज भी होते हैं जैसे पॉलिटेक्निक से भी कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कर सकते हैं जो कि बराबर मान्यता रखता है और आपको किसी भी आईटी सेक्टर में जॉब दिला सकता है.

इसके अलावा कुछ डिप्लोमा होते हैं जो कि 1 साल .2 साल के होते हैं जैसे कि आप  1 साल का डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं जो बारहवीं कक्षा के बाद होता है या फिर अगर आपने पहले से ही कोई ग्रेजुएशन कर रखी है तो आप उसके बाद में भी 1 साल 2 साल साइड डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं जिसकी भी मान्यता की दम पर आप आईटी सेक्टर में जॉब प्राप्त कर सकते हैं.

आईटी कोर्स कितने प्रकार के होते हैं

आईटी के कोर्स दो प्रकार के होते हैं

  • डिप्लोमा
  • डिग्री

डिप्लोमा: डिप्लोमा में 3 साल, 2 साल और 1 साल के कोर्स होते हैं जिन्हें करने के बाद आप किसी भी आईटी सेक्टर में जॉब प्राप्त कर सकते हैं.

लेकिन यह निर्भर उस विभाग पर करता है कि उसे कम से कम कितनी अवधि के डिप्लोमा होल्डर को नौकरी पर रखना है .इसी के साथ साथ यह भी सुनिश्चित करना जरूरी है कि डिप्लोमा में कौन सी स्ट्रीम ली गई है क्योंकि आईटी सेक्टर का डिप्लोमा सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर में भी होता है.

जहां आप सॉफ्टवेयर का डिप्लोमा करके सॉफ्टवेयर के विभाग में नौकरी ले सकते हैं या हार्डवेयर का डिप्लोमा करके हार्डवेयर के बाद में नौकरी ले सकते हैं यह आप पर निर्भर करता है आप किस विभाग में नौकरी करना चाहते हैं जिस विभाग में आप नौकरी करना चाहते हैं उसी विभाग के अनुरूप डिप्लोमा आप चुन सकते हैं.

डिग्री: आज के समय में आपको सभी कॉलेज और विश्वविद्यालय जैसे कि यूनिवर्सिटी आपको इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की डिग्री प्रदान करती है

जिसमें आप ग्रेजुएशन से लेकर मास्टर ग्रेजुएशन तक कर सकते हैं जिसमें आप बीएससी, एमएसजी ,बीटेक ,एमटेक आदि कोई भी ग्रेजुएशन यूज कर सकते हैं.इसमें भी आप सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की डिग्री से जुड़ सकते हैं .अगर आप डिग्री करते हैं तब आपको आईटी डिपार्टमेंट के अंदर एक अच्छी पोस्ट पर नौकरी मिल जाएगी.

आईटी में क्या योगदान है समझाइए

आईटी विभाग का भारत के डिजिटल होने में बहुत बड़ा योगदान है बिना आईटी विभाग के भारत का डिजिटलाइजेशन होना असंभव सा है आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि केवल यूपीआई ट्रांजैक्शन के कारण भारत में आज के समय में पैसों का लेनदेन इतना आसान हो गया है के लोग आज के समय में अपने पर्स में 1000 से ज्यादा पैसे नहीं रखते है .

इसके अलावा ट्रेन बुक करना, पैसों का लेनदेन करना ,ऑनलाइन गैस टंकी बुक करना ,ऑनलाइन टैक्स भरना ,ऑनलाइन केस की सुनवाई जानना ,ऑनलाइन फीस भरना, कॉलेज की स्कूल की ऑनलाइन छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करना ,ऑनलाइन आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड ,पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस यह सारे काम आज के समय में ऑनलाइन किए जाते हैं जो कि आईटी का सबसे बड़ा योगदान है.

आईटी विभाग वेबसाइट

भारत में कई सारे आईटी विभाग हैं जिनका काम अपने एक निश्चित दिशा निर्देशित करना होता है इसलिए सभी विभागों की अपनी -अपनी अलग वेबसाइट है  जिन्हें आप आईटी लिखकर सर्च कर सकते हैं.

नीचे दिए गए एक उदाहरण से आप अपने प्रदेश की आईटी विभाग की वेबसाइट को ढूंढ सकते हैं

उदाहरण :- मध्य प्रदेश आईटी विभाग वेबसाइट ढूंढने के लिए आप IT Department MP लिखकर गूगल में सर्च कर सकते हैं आपके सामने गवर्नमेंट की वेबसाइट आ जाएगी यह कैसे पहचाने कि यह सिर्फ गवर्नमेंट की की वेबसाइट है.

तो इसके लिए आप .GOV.IN इस डोमेन के मार्क को जरूर देखें क्योंकि यह डोमेन मार्क केवल सरकारी वेबसाइट में ही लगाया जाता है अगर किसी वेबसाइट का अंत में डोमेन नेम यह है तो वह निश्चित ही एक सरकारी विभाग की वेबसाइट है.

आईटी से आप क्या समझते हैं

आईटी से हमारा आश्रय इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से होता है इस आश्रय के तहत हम यह जानना चाहते हैं या हम किसी भी एक डिपार्टमेंट या विभाग को सूचित कर रहे होते हैं.आईटी का मतलब इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी होता है अगर यह शब्द का उपयोग किसी विभाग के लिए क्या किया जाए तो वह आईटी सेक्टर होता है .

आईटी का मतलब क्या होता है

आईटी का मतलब सूचना प्रौद्योगिकी कहलाता है यह एक ऐसा शब्द है जिसमें तकनीक और सूचना दोनों को मिलाकर सूचना प्रौद्योगिकी कहते है .हम इसे इंग्लिश में या अंग्रेजी भाषा में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट भी कहते हैं. यह सुरक्षा और तकनीक के विभाग को भी दर्शाता है.